आर्थिक आकड़ों में सुधार से टूटे कीमती धातु के भाव।

आर्थिक आकड़ों में सुधार से टूटे कीमती धातु के भाव।

पिछले सप्ताह कीमती धातुओं मे ऊपरी स्तरों से बिकवाली का दबाव रहा। अप्रैल के महीने के अंत तक आर्थिक आंकड़ों में मजबूती रही जिसके कारण कीमती धातुओं मे दबाव बना। अमेरिकी जीडीपी 2021 की पहली तिमाही में 6.4% तिमाही-दर-तिमाही बढ़ी है और पिछले सप्ताह भर में 553,000 प्रारंभिक बेरोजगार दावे दर्ज किए गए, जो पिछले सप्ताह से कम है। सप्ताह के शुरुवात में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन द्वारा प्रस्तावित 1.8 ट्रिलियन डॉलर का प्रोत्साहन योजना पर निवेशकों की नज़र है। जापान में, मार्च में औद्योगिक उत्पादन में महीने दर महीने 2.2% की बढ़ोतरी हुई और टोक्यो कोर कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स में अप्रैल में सालाना आधार पर 0.2% की बढ़ोतरी हुई है। चीन ने शनिवार से शुरू होने वाले एक सप्ताह के अवकाश के आगे वृद्धि दर धीमी दर्ज की है। शुक्रवार को  जारी चीनी आंकड़ों के अनुसार अप्रैल के लिए विनिर्माण क्रय प्रबंधक सूचकांक (पीएमआई) घट कर 51.1 पर पहुंच गया और गैर-विनिर्माण पीएमआई घट कर 54.9 पर रहा। जबकि अप्रैल के लिए कैक्सिन मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई मे बढ़त दर्ज की गई है। चीन और जापान मे सप्ताह में शुरुवाती अवकाश होने से कीमती धातुए सिमित दायरे मे रह सकती है।

प्रमुख आंकड़े

इस सप्ताह प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं से जारी होने वाले आंकड़े जिनमे, सोमवार को अमेरिकी मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई, बुधवार को एडीपी नॉन फार्म एम्प्लॉयमेंट चेंज और सर्विस पीएमआई, गुरुवार को अनम्पलॉयमेंट क्लेम्स तथा शुक्रवार को पैरोल के आंकड़े प्रमुख है।

आगामी सम्भावना

इस सप्ताह सोने और चाँदी में तेज़ी रहने की सम्भावना है।  इसमें 46300 रुपये पर समर्थन और 47200 रुपये पर प्रतिरोध है। चाँदी में 68000 रुपये पर सपोर्ट और 70000 रुपये पर प्रतिरोध है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *